मंगलवार, 26 जनवरी 2010

परेड की एक झलक


आज गणतंत्र दिवस है इसे हर भारतवासी को याद रखना चाहिए और इस दिन  गौरवान्वित महूसस करना चाहिए क्यूकि हम इस गणतंत्र का हिस्सा है जो तमाम मुश्किलों को झेलते हुए अडिग,अमर और अजेय है .................
                                 गणतंत्र दिवस के अवसर पर देश की राजधानी दिल्ली में इंडिया गेट के निकट  राजपथ पर परेड होती है जो भारतीय गणतंत्र की शान का प्रतीक है .प्रत्येक भारतीय उस क्षण परेड को देख अभिभूत हो यही कहता है क़ि जहा डाल डाल पर सोने क़ि चिड़िया करती है बसेरा वह भारत देश है मेरा ...................
                                              26 जनवरी क़ी सुबह कोहरे में लिपटे राजपथ के दोनों तरफ एकत्रित जन समूह बेसब्री से परेड शुरू होने का इंतजार कर रहा था और देशभक्ति धुनों को सुन आनंदित हो रहा था.ठंड ज्यादा होने के बावजूद उनके उत्साह में कोई कमी नहीं दिखाई पड़ रही थी.सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए खाकी वर्दी धारी जवान भी अपने काम को बखूबी निभा रहे थे.
                                          तकरीबन 10 बजे व़ी आई प़ी लोगो का आगमन प्रारम्भ हुआ.उसके बाद सेना के जवान आने शुरू हुए .सेना के  विभिन्न दलों को देख कर अनुशासन क़ी महत्ता का अनुभव हुआ .उन  दलों को देख यह अनुभव हुआ क़ि सभी एक जैसे है किसी का  कोई धर्म नहीं, कोई जाति नहीं वह तो बस सब एक दूजे के क्लोन है .ऊंट पर बैठे सैनिको की तो बात ही निराली थी दुल्हन की तरह सजे ऊँटो का धैर्य तो देखते ही बन रहा था मानों उन्हें पता हो क़ि इतने व्यापक स्तर पर आयोजन हो रहा है............
                विभिन्न प्रदेशो एवं मंत्रालयों क़ी झाकिया तो मंत्र मुग्ध करने वाली थी.उसके बाद  सैनिको द्वारा मोटरसैकिल पर और आकाश में क़ी गई कला बाजियों का कोई जवाब ही नहीं था .यह क्षण प्रत्येक भारतीय को गर्व से भर देता है .....................

3 टिप्‍पणियां:

Unknown ने कहा…

wahh!!!.....isiliye to apna desh sabse anokha hai ..

Udan Tashtari ने कहा…

जय हो!


गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ.

Dinbandhu Vats ने कहा…

Sare jahan se achha Hindosta hamara